क्या बात है :

kya

पेड़ से कागज बनाकर लिख दिया
पेड़ मत काटो मजे की बात है

घुस गए जंगल के अंदर चार ट्रक
ये करीबन दस बजे की बात है

लोग डरते हैं अतः खामोश हैं
ये शकुनि के भानजे की बात है

तंत्र को नुकसान की चिंता नहीं
बेहिसाब मुआबजे की बात है