होम :

homलोकगीत : होम :

बालो ए वैस्वानर मानूर
लियो बेदी वैस्वानर समिधा वैसेटी को होम

लियो बेदी वैस्वानर समिधा तील को होम
जौ को होम घृत को होम ए
बालो ए वैस्वानर मानूर
लियो बेदी वैस्वानर समिधा लाडू को होम

सुवालो को होम रोहिणी को होम
फूल दूबो को होम ए
बालो ए वैस्वानर मानूर
लियो बेदी वैस्वानर समिधा अक्षत को होम

रामीचंद्र ठोया-ठोया होम करला
लछीमन वेदांत का अगला होता ए
लछीमन ठोया-ठोया होम करला
लवकुस वेदांत का अगला होता ए ..

Published by

drhcpathak

Retired Hindi Professor / Researcher / Author / Writer / Lyricist

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s